6 करोड़ की धोखाधड़ी करने वाला हवाला आपरेटर दिल्ली से गिरफ्तार

देहरादून। दिल्ली से इम्पोर्ट एक्सपोर्ट (IMPEX) के नाम पर काम करने वाले हवाला ऑपरेटर को एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है। विभिन्न राज्यों मे हुए धोखाधड़ी के 6 करोड़ के मामले मे यह पहली गिरफ्तारी है।

साइबर क्राईम पुलिस स्टेशन को मिली शिकायत के अनुसार एक अज्ञात व्यक्ति द्वारा मोबाइल नम्बर +8801829891833 व अन्य नम्बरो से महिला को व्हटसप के माध्यम से सम्पर्क कर स्वंय को नामी गिरामी कम्पनी से बताकर पार्ट टाईम जॉब कर लाभ कमाने का लालच देकर करीब 48 लाख रुपये की ऑनलाईन धोखाधडी की गयी थी, जिसमे थाना राजपुर मे मुकदमा दर्ज किया गया था।

जांच के दौरान गठित टीम द्वारा घटना में प्रयुक्त मोबाईल नम्बर, तथा आरोपियों द्वारा शिकायतकर्ता से प्राप्त धनराशि की जानकारी प्राप्त की गयी तो प्रकाश में आया कि आरोपियों द्वारा शिकायतकर्ता से पार्ट टाईम जॉब कर कर अधिक लाभ कमाने हेतु विभिन्न टैक्स व चार्जेस जमा कराने के नाम पर महिला से धोखाधडी की गयी । मोबाईल नम्बर व खातों की जानकारी मे आरोपियों का दिल्ली से पाया गया।

खाता संख्या, मोबाईल नम्बर तथा धोखाधडी से प्राप्त की गयी धनराशि फर्जी आईडी पर खोले गये बैक खातो में प्राप्त की गयी थी। खाताधारक के सम्बन्ध में साक्ष्य एकत्रित करते हुये अभियोग में 01 अभियुक्त संजीव मल्होत्रा पुत्र जोगेन्द्र कुमार निवासी ब्लॉक 9, 111बी फर्स्ट फ्लोर, रमेश नगर, थाना कीर्तिनगर, नई दिल्ली-15 से गिरफ्तार किया गया। आरोपी से घटना में प्रयुक्त 2 मोबाईल फोन तथा आधार कार्ड बरामद किये गये।

पूछताछ के आधार पर पता चला कि आरोपी द्वारा महिला के मोबाईल नम्बर पर वह्ट्सएप के माध्यम से सम्पर्क कर स्वंय को नामी गिरामी कम्पनी के कर्मचारी बताकर पार्ट टाईम जॉब / वर्क फ्रॉम होम कर अच्छा लाभ कमाने के नाम पर यूट्यूब / इंस्टाग्राम के लिंक भेजकर लाईक व सब्स्क्राईब करने के टास्क दिये गये जिन्हें पूरा करने पर अज्ञात व्यक्तियों द्वारा वादिनी को पैसे भी भेजे गये । इस प्रकार अज्ञात व्यक्तियों द्वारा महिला को विश्वास में ले लिया गया । जिसके पश्चात धीरे-धीरे जब महिला को उचित लाभ मिलना शुरू हुआ तो उनके द्वारा वादिनी से पैसा लगाकर अपनी राशि से अधिक लाभ कमाने का लालच दिया गया। इसी प्रकार उक्त व्यक्तियों द्वारा वादिनी से लगभग 48 लाख रुपयों की धोखाधड़ी की गयी तथा धोखाधडी से प्राप्त धनराशि को विभिन्न बैक खातो में प्राप्त कर उक्त धनराशि का प्रयोग करते है । अभियुक्तगणो द्वारा उक्त कार्य हेतु फर्जी सिम, आईडी कार्ड व बैंक खातों का प्रयोग कर अपराध किया जाता है ।

अभियक्त के विरुद्ध शिकायतों का विवरण 
उक्त हवाला ऑपरेटर द्वारा महज 01 महीने में करीब 6 करोड़ के लेन देन की हेरा फेरी की गयी, जिस सम्बन्ध में आरोपी को करीब 20 राज्यों की पुलिस द्वारा तलाश किया जा रहा था ।

पुलिस टीमः-
1. निरीक्षक त्रिभुवन रौतेला
2. उ0नि0 हिम्मत सिंह
3. उ0नि0 राहुल कापड़ी
4. अ0उ0नि0 मनोज बेनीवाल
5. आरक्षी हरेन्द्र भण्डारी

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एस0टी0एफ0 उत्तराखण्ड ने जनता से अपील की है कि वे किसी भी प्रकार के लोक लुभावने अवसरो/फर्जी साइट/धनराशि दोगुना करने व पार्ट टाईम जॉब कर अधिक लाभ कमाने वाले अंनजान अवसरो के प्रलोभन में न आयें । किसी भी प्रकार के ऑनलाईन वर्क फ्रॉम होम / पार्ट टाईम जॉब हेतु एप्लाई करने से पूर्व उक्त साईट का पूर्ण वैरीफिकेशन सम्बन्धित कम्पनी आदि से भलीं भांति इसकी जांच पड़ताल अवश्य करा लें तथा गूगल से किसी भी कस्टमर केयर नम्बर सर्च न करें। कोई भी शक होने पर तत्काल निकटतम पुलिस स्टेशन या साइबर क्राईम पुलिस स्टेशन को सम्पर्क करें । वित्तीय साईबर अपराध घटित होने पर तुरन्त 1930 नम्बर पर सम्पर्क करें ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *