ट्रेकिंग मशीन चोरी के मामले मे 03 शातिर गिरफ्तार

देहरादून। रायवाला पुलिस ने ट्रेकिंग मशीन चोरी के मामले मे 03 शातिर चोरों को चोरी की गयी 7 लाख की ट्रैकिंग मशीन के साथ गिरफ्तार किया है।

20 अप्रैल को थाना रायवाला मे फूलचन्द्र मौर्य पुत्र हुवलाल नि0 विक्रमपुर धनपुर, हडिया, इलाहाबाद उप्र द्वारा नेपाली फार्म के पास से तीन अज्ञात व्यक्तियो द्वारा फाल्कन कम्पनी की ट्रेकिंग मशीन चोरी करने के सम्बन्ध में तहरीर दी गयी। मामले के खुलासे के लिए थाना रायवाला तथा एसओजी देहात की संयुक्त टीम का गठन किया गया। गठित पुलिस टीम को आज मुखबिर द्वारा सूचना दी गयी कि जिन आरोपियों द्वारा नेपाली फार्म क्षेत्र से मशीन चोरी की गयी थी, वह मशीन को स्विफ्ट कार नं0: डीएल 09 सीएएस 7243 से भानियावाला की तरफ से हरिद्वार होते हुए दिल्ली ले जा रहे हैं। सूचना पर पुलिस टीम द्वारा ओणेंश्वर मन्दिर के पास हाइवे पर बैरियर लगाकर चैकिंग प्रारम्भ की गयी। चैकिंग के दौरान देहरादून भानियावाला की तरफ से एक सफेद रंग की स्विफ्ट कार डीएल 09 सीएएस 7243 आती हुई दिखाई दी, जिसे पुलिस टीम द्वारा बैरियर लगाकर रोका गया। कार मे तीन व्यक्ति बैठे थे। नाम पता पूछने पर उन्होंने अपना नाम रोहित उर्फ रोहित कटारिया पुत्र स्व0 प्रेमचन्द नि0 पी0-7/17 मंगौलपुरी, थाना राजपार्क, दिल्ली 83 नार्थ वेस्ट, दिल्ली, उम्र 35 वर्ष, अभिषेक पुत्र महेन्द्र कुमार नि0 ग्राम गौठडा थाना डायना जयनाबाद जिला रैवाडी हरियाणा हाल पता पी-2, 460 सुल्तानपुरी, दिल्ली, उम्र 22 वर्ष तथा मसरुर आलम उर्फ मंशूर पुत्र स्व0 मकसूद अली निवासी ग्राम बाद सोई थाना आबादपुर, जिला कटिहार, बिहार उम्र 32 वर्ष, हाल पता सुल्तानपुरी, दिल्ली बताया। वाहन की तलाशी लेने पर उसमें रखे एक काले-नीले बैग से डीजी ट्रेकर मशीन बरामद हुई। जिसके सम्बन्ध में थाना रायवाला मे मुुुुकदमा पंजीकृत किया गया था। तीनो आरोपियों को मौके से गिरफ्तार किया गया था।

पूछताछ मे रोहित द्वारा बताया गया कि उसकी दिल्ली मंगोलपुरी में परचून की दुकान है तथा मसरूर आलम ड्रिलिंग मशीन ऑपरेटर है और अभिषेक दिल्ली सुल्तानपुरी में ई-रिक्शा चलाता है। मैने वर्ष 2019 में गुजरात से भी डीजी ट्रैकर मशीन चोरी की थी, जिस कारण मैं 2019 से 2022 तक तीन साल साबरमती जेल में बंद रहा, इसके बाद मंगोलपुरी आकर मेरे द्वारा परचून की दुकान खोली गयी थी, इस दौरान मेरी मुलाकात मसरूर और अभिषेक से हुई। कुछ समय पूर्व मुझे मेरे एक परिचित के माध्यम से पता चला कि ऋषिकेश क्षेत्र में गैस पाइपलाइन बिछाने का काम चल रहा है तथा वहां पर फाल्कन कम्पनी की टैªकिंग मशीन लगी है, जिस पर मैने अपने साथी मसरूर और अभिषेक से साथ मिलकर उक्त मशीन को चोरी करने की योजना बनाई। हमारी योजना थी कि हम उक्त मशीन को चोरी कर दिल्ली ले आयेंगे जहाँ हमें उक्त मशीन के आसानी से 03 से 04 लाख रू0 तक मिल जायेंगे। योजना के मुताबिक हम तीनों ल 15 अप्रैल को दिल्ली से मोटरसाइकिल से ऋषिकेश आये तथा रात्रि में मौका देखकर हमारे द्वारा उक्त मशीन को चोरी कर लिया गया, परन्तु जगह-जगह पुलिस की चैकिंग होती देख हमने उक्त मशीन को रानीपोखरी क्षेत्र में 07 मोड के जंगलो में छुपा दिया तथा वापस सहारनपुर होते हुए दिल्ली चले गये। आज हम तीनो मेरी स्विफ्ट कार से उक्त मशीन को दिल्ली ले जाने के लिये वापस आये थे।

पुलिस टीम

(01) उ0नि0 सन्दीप देवरानी
(02) उ0नि0 नीरज त्यागी
(03) कानि0 787 दिनेश महर
(04) कानि0 1392 अर्जुन
(05) कानि0 78 सुबोध नेगी
(06) कानि0 1151 अनीत कुमार

एस0ओ0जी टीम

1-उ0नि0 दीपक धारीवाल
2-कां0 1185 नवनीत सिंह
3-कानि0 1720 सोनी
4-कानि0 823 मनोज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *