भ्रष्टाचार मे लिप्त प्रतिनिधियों की ढाल बन रही है कांग्रेस:चौहान

देहरादून। भाजपा ने कहा कि तमाम घपले घोटालों मे लिप्त कुछ पंचायत प्रतिनिधियों पर कार्यवाही के खिलाफ जिस तरह से कांग्रेस ढाल बनकर सहानुभूति जता रही है वह सरासर गलत है।

नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान ने कहा कि जिला पंचायत अथवा क्षेत्र पंचायत मे जिन प्रतिनिधियों पर भ्रष्टाचार मे संलिप्त होने पर प्रशासनिक कार्यवाही हुई वह निष्पक्ष जाँच के आधार पर हुई और इसमें पार्टी की कोई मंशा नही है। भाजपा की भ्रष्टाचार की जीरो टॉलरेंस की नीति है और उसमे किसी तरह से समझौता नही है, क्योंकि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अधिकारियों को इसके लिए स्पष्ट निर्देश जारी किये है।
उन्होंने कहा कि बागेश्वर के पूर्व जिप अध्यक्ष पर कार्यकाल के दौरान वित्तीय अनियमितताओं के गंभीर आरोप है। 2014- 15 मे कार्यकाल के दौरान उन पर निविदा सामग्री बिना बोर्ड मे प्रस्ताव और कई योजनाओं मे मनमाने ढंग से वित्तीय गड़बड़ी के आरोप है। जिला पंचायत की जांच मे सभी आरोप सही पाए गए है और इसी कारण उन पर कार्यवाही की गयी है।

उन्होंने कहा कि खटीमा के ब्लॉक प्रमुख पर वित्तीय अनियमितता के गंभीर आरोप हैं। ढाई लाख से अधिक के काम टेंडर से होते है, लेकिन ब्लॉक प्रमुख ने सभी कार्य कोटेशन से करा दिये । जहां कोई लाभार्थी नहीं हैं वहाँ नाली बना दी। इसी प्रकार से अन्य ज़िला पंचायत अध्यक्षों पर भी भ्रष्टाचार के गंभीर मामले रहे हैं। उन पर बिना काम कराए ही भुगतान के आरोप रहे है।
चौहान ने कहा कि कांग्रेस हमेशा ही भ्रष्टाचार मे लिप्त लोगों के प्रति सहानुभूति दिखाती रही है। एक और भर्ती घोटालों मे लिप्त लोगों को सरकार सलाखों के पीछे भेजती रही तो कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन जारी रहा। विस मे अवैध नियुक्ति के खिलाफ सड़को पर उतरकर आंदोलन करने वाली कांग्रेस कार्यवाही के बाद उनके साथ धरने पर बैठ गयी। उन्होंने कहा कि सरकार काल खंड देखे बिना निष्पक्ष रूप से भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान चला रही है और विपक्ष को भी इसमें सहयोग करने की जरूरत है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *