लाठीचार्ज के खिलाफ कांग्रेसियों ने सचिवालय कूच कर दी गिरफ्तारी

देहरादून। बेरोजगारों पर लाठी चार्ज के खिलाफ आज कांग्रेस ने सचिवालय कूच कर गिरफ्तारी दी।

कांग्रेस कार्यालय के प्रांगण में आयोजित धरना कार्यक्रम में  प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा ने कहा कि भर्ती घोटालों की जांच की मांग को लेकर आन्दोलन कर रहे नौजवानों पर राज्य सरकार ने जिस प्रकार बल प्रयोग किया वह लोकतंत्र में न्यायोचित नहीं ठहराया जा सकता है तथा कांग्रेस उनकी इस लड़ाई में उनके साथ खडी है। उन्होंने कहा कि राज्य में अभी तक जितनी भी भर्तियां की गई हैं उन सभी भर्तियों के घोटालों में सत्ताधारी दल के लोगों की संलिप्तता स्पष्ट रूप से देखने को मिली है तथा जांच के नाम पर लीपापोती की जा रही है। भर्ती घोटाला तंत्र सरकार के संरक्षण में फल फूल रहा है तथा राज्य के बेरोजगार नौजवानों का हक मारा जा रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी सभी भर्तियों की जांच उच्च न्यायालय के सिटिंग जज की निगरानी में सीबीआई से करवाये जाने की मांग लम्बे समय से कर रही है, किंतु राज्य सरकार ने जिस प्रकार का रवैया अपनाया हुआ है।

नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य नेे कहा कि उत्तराखंड में पिछले छह सालों में भाजपा की सरकार ने प्रदेश को हर क्षेत्र में पीछे धकेल दिया है। बेरोजगारी पिछले पचास वर्षों में सबसे ऊंचे स्तर पर है, राज्य के पर्वतीय क्षेत्रों के नौजवानों में सरकारी उपेक्षा के खिलाफ जबरदस्त आक्रोश है। आर्य ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी चुनावी भाषणों में रोजगार देने की बात करती है परन्तु आज रोजगार मांगने पर बेरोजगार नौजवानों और छात्रों पर लाठियां बरसाई जा रही हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने दमनकारी नीति का परिचय देते हुए शांतिपूर्ण आंदोलन को शक्ति के बल पर कुचलने का काम किया है, कांग्रेस पार्टी इस कृत्य की भर्त्सना करती है तथा भाजपा सरकार जिस हिटलरशाही का परिचय देकर जन आन्दोलनों और बेरोजगार नौजवानों एवं महिलाओं के साथ बदसलूकी करने का काम कर रही है उसकी कडे शब्दों में निंदा करती है। उन्होंने यह भी कहा कि दिनांक 8 एवं 9 फरवरी 2023 को आंदोलनरत बेरोजगार नौजवानों पर हुई बर्बरता की उच्च स्तरीय जांच के साथ ही इस घटना के लिए दोषी अधिकारियों के खिलाफ कडी कार्रवाई की जानी चाहिए।
पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि महंगाई, बेरोजगारी, भाजपा की केंद्र व राज्य सरकार के कुशासन के लिए किये जाने वाले विरोध प्रदर्शन में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को ऊर्जा व स्पूर्ति प्रदान करेगा। उन्होंने कहा कि देश और प्रदेश की बेरोजगारी ने तमाम कीर्तिमानों को तोड दिया है। महंगाई ने भी आम आदमी की कमर तोड कर रख दी है, उसका जीवन दूभर कर दिया है। कांग्रेस पार्टी गरीब, बेरोजगार, नौजवान, महिला अधिकारों के लिए लामबंद होकर जनहित के लिए संघर्ष करती रहेगी। उन्होंने कहा कि देश के सामने जो चुनौतियां हैं उन चुनौतियों के समाधान ढूंढने के लिए व भाजपा सरकार पर दबाव बनाने के लिए कांग्रेस कोई भी कसर नहीं छोडेगी और यह भी कहा कि कांग्रेस ने जैसे देश की आजादी में अंग्रेजों के खिलाफ संघर्ष कर देश को आजाद कराया है वैसे ही बेरोजगारी, महंगाई व सुशासन के विरुद्ध निरंतर संघर्ष किया जायेगा।
पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य में बेरोजगारी की दर में हो रही लगातार वृद्धि पर तंज कसते हुए कहा कि भाजपा ने देश और प्रदेश की सत्ता पर काबिज होने के लिए युवा नौजवान, बेरोजगार एवं गरीबों का सहारा लिया था। भारतीय जनता पार्टी प्रतिवर्ष 2 करोड़ बेरोजगारों को रोजगार देने का सपना दिखा कर देश और प्रदेश की सत्ता पर काबिज तो हो गई परन्तु आज जिस प्रकार राज्य में बेरोजगारों की फौज खडी हो रही है तथा सरकारी नियुक्तियों के लिए हो रही परीक्षाओं में घोटालों को अंजाम दिया जा रहा है उससे प्रदेश का नौजवान, बेरोजगार अपने को ठगा सा महसूस कर रहा है।
पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने कहा कि राज्य सरकार ने पटवारी भर्ती में हुए घोटाले की जांच से पहले ही दुबारा भर्ती परीक्षा आयोजित कर एकबार फिर से राज्य के बेरोजगार नौजवानों को गुमराह करने की चेष्टा की है। उन्होंने एक बार फिर से कहा कि 280 प्रश्नों का वह प्रश्न बैंक जो लीक हुआ था उसके सार्वजनिक होने से पहले भर्ती परीक्षा का आयोजन बेमानी साबित होगा तथा 12 फरवरी को दुबारा आयोजित की गई पटवारी भर्ती परीक्षा की निष्पक्षता भी सन्देह के घेरे में है। सरकार के जवाबदेह पदों पर बैठे हुए लोग इसका स्पष्टीकरण नहीं दे पा रहे हैं। उन्हांेंने कहा कि जब तक यह स्पष्ट नहीं होता कि पारदर्शी एवं निष्पक्ष परीक्षा कराई जा रही है तथा सरकार के स्तर से पारदर्शी परीक्षा के पुख्ता इंतजामात किये गये हैं तब तक ऐसी परीक्षाएं हमेशा सन्देह के घेरे में रहेगी जिसका खामियाजा हमारे युवाओं को भविष्य में भी भुगतना पड़ेगा।
निवर्तमान मीडिया चेयरमैन राजीव महर्षि ने कहा कि भाजपा सरकार ने जिस दमनकारी नीति का परिचय देते हुए शांतिपूर्ण आन्दोलन को शक्ति के बल पर कुचलने का काम किया है उसे कांग्रेस पार्टी कतई बर्दास्त नहीं करेगी तथा नौजवान बरोजगारों के हक की लडाई सड़कों पर उतर कर लडती रहेगी।

इस मौके पर पूर्व सांसद प्रदीप टम्टा, विधायक ममता राकेश, विक्रम सिंह नेगी, विरेन्द्र जाती, पूर्व मंत्री हीरा सिंह बिष्ट, प्रदेश उपाध्यक्ष संगठन प्रशासन मथुरादत्त जोशी, महामंत्री संगठन विजय सारस्वत, पूर्व विधायक विजयपाल सजवाण, राजकुमार, रामयश सिंह, मनोज रावत, मनीष खण्डूरी, जयेन्द्र रमोला, सुमित्र भुल्लर, आर्येन्द्र शर्मा,गरिमा माहरा दसौनी, राजेन्द्र शाह, दर्शन लाल, दिनेश अग्रवाल, राजवीर चौहान, गोपाल सिंह राणा, प्रभुलाल बहुगुणा, शंकर चन्द रमोला, कुंवर सजवाण, भगत सिंह डसीला, , पूर्व महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा, पूरन रावत,विकास नेगी सचिव आई .टी विभाग,योगेश चलगा,नदीम अख़्तर,रकित वालिया,पायल बहल, लक्ष्मी अग्रवाल कपरवाण, विनित प्रसाद भट्ट बन्टू, संजय किशोर, पूनम कण्डारी, अनूप पासी, दिनेश कौशल, नजमा खान, रेखा ढींगरा, सोनिया आनन्द, कोमल वोहरा, संगीता गुप्ता, आशा टम्टा, शशि सेमवाल, याकूब सिद्धिकि, राजेश चमोली, सोना सिंह, अर्जुन सोनकर, अपून कपूर, इतात खान, मीना बिष्ट, अरूणा कुमार, दीपक चैहान, पिया थापा, विनोद चैहान, देवेन्द्र सिंह, सुशील राठी, मनीष नागपाल, मोहन काला, जगदीश धीमान, राजवीर चैहान, नवनीत सती, दीप बोहरा, गिरीश पपनै, देवेन्द्र सती, शोभाराम, विशाल मौर्य, अनिल नेगी, सुलेमान अली, अजय रावत, शरीफ बेग, अनुराधा, सावित्री थापा आदि अनेक कांग्रेसी शामिल थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *