लिफ्ट के बहाने लूट करने वाले 2 शातिर लुटेरे गिरफ्तार

देहरादून। पुलिस ने एक दिन मे राह चलते लोगों को लिफ्ट देने के बहाने लूट की दो घटनाओं को अंजाम देने वाले दो शातिर अपराधियों को गिरफ्तार किया है। लुटेरो ने 6 अक्तूबर को महिला सहित युवक के साथ वारदात को अंजाम दिया था।

घटनाक्रम के अनुसार आरोपियों ने लोकेन्द्र कुमार पुत्र चेतराम सिंह निवासी ग्राम पित्थापुर थाना स्योहारा जिला बिजनौर उत्तर प्रदेश को देहरादून के लिए बस का इंतजार करते समय झांसा दिया कि वह देहरादून जा रहे है और बस के किराए मे देहरादून छोङ देंगे। आरोपी  ग्रे कलर की आई 20 कार नं0 DL7CP-3906 के साथ मिला कार में देहरादून जाने वाली एक सवारी पहले से ही बैठी थी। लालतप्पड से करीब 02 किमी आगे चले तो चालक ने हाईवे से लिंक रोड की तरफ मोड लिया और कहने लगा कि मुझे गांव से कुछ सामान लेना है, जब हम कुछ दूर आगे चले तो एकांत में ड्राईवर ने गाडी रोक दी और पीछे की सीट पर सवारी के रुप में बैठे व्यक्ति ने पिस्टलनुमा हथियार निकालकर मेरे सिर पर वार किया जिससे उसके सिर पर चोट भी आई । आरोपी ने जेब से 600/- रूपये व एटीएम कार्ड निकाल लिया और चालक ने मेरा मोबाईल और बैग भी छीनकर भाग गये।

बाद मे डोईवाला थाने मे मुकदमा दर्ज किया गया। इसी दौरान  रानीपोखरी निवासी बबीता पंवार निवासी भट्ट नगरी खाला के साथ भी रात्रि मे घटना हुई।  रात्रि में एक प्राईवेट कम्पनी से काम के बाद घर लौटने के दौरान भानियावाला तिराहा पर DL नं0 की एक कार मैं बैठे एक ड्राईवर और एक सवारी द्वारा रानीपोखरी के लिए लिफ्ट देने के बहाने रास्ते में पिस्टल निकालकर वादिनी के सिर पर चोट मारकर और भय दिखाकर उसका सैमसंग गैलेक्सी ए03 फोन, एटीएम कार्ड व 150/- रूपये छीन लिये । इस दौरान पीड़िता ने अपने बचाव के लिए पीछे बैठे अभियुक्त के हाथ में दांत से काटा और किसी तरह छूटकर अपने घर लौटकर पहुंची। इस सम्बन्ध में थाना रानीपोखरी मे मुकदमा दर्ज किया गया। दोनों घटनाएँ एक ही कार से दो व्यक्तियों द्वारा किये जाने की पुष्टि हो गयी।

मामले के खुलासे के लिए पुलिस द्वारा थाना डोईवाला व रानीपोखरी की 04 टीमों का गठन किया। सटीक सूचना पर पुलिस ने घटना में शामिल दो आरोपियों को  मनीष रावत पुत्र सुरेन्द्र सिह रावत निवासी वर्तमान पता C/O रामचन्द्र चौधरी लोअर तुनवाला रामपुर रोड थाना डोईवाला जनपद देहरादून उम्र- 25 वर्ष स्थानी निवासी ग्राम चोपडाकोट थाना थलीसैण पौडी गढवाल (2) इन्द्रजीत सिंह बाजवा पुत्र गुरदीप सिह बांजवा वर्तमान निवासी एकता विहार कालोनी म.न- 172 मोहक्मपुर थाना नेहरूकालोनी जनपद देहरादून स्थानी पता – सैक्टर- 4 A-24 हरगोविन्द बिहार रोहणी थाना रोहणी सेक्टर -05 दिल्ली उम्र- 35 वर्ष को थाना डोईवाला में थानो रोड से गिरफ्तार कर लिया।

आरोपियों ने पूछताछ मे बताया कि मनीष रावत पूर्व में टैक्सी ड्राईवर था तथा इन्द्रजीत पहले अमेरिका में रहता था। 2016 मे वह दिल्ली आ गया था पिछले दो साल से देहरादून में अपनी पत्नी के साथ किराये में रहा था। इन्द्रजीत देहरादून में रहकर एक काल सेन्टर में आंनलाइन नौकरी कर रहा था। पिछले कुछ समय से उसकी नौकरी छूट गयी थी, इसके बाद उसने मियांवाला शराब ठेके के पास चिकन पकौडे की ठेली लगायी, वही उसकी मुलाकात मनीष रावत से हुयी। दोनो नशा करने के आदी थे, इसलिए दोनो मे दोस्ती हो गयी । इन दोनो की नशे की आदत के कारण दोनो की पत्नियां इन्हे छोडकर अपने मायके चली गयी थी। इस बीच मनीष और इन्द्रजीत दोनो का काम बन्द हो गया और बेरोजगार हो गये। इसी के कारण दोनो ने मिल कर एक योजना बनायी कि इन्द्रजीत की आई-20 कार मे सवार होकर दोनो किसी बस स्टेशन अथवा ऐसी जगह पर जायेंगे, जहाँ कोई पैसेन्जर अकेले खडा होकर किसी वाहन का इन्तजार कर रहा हो। उससे किराया तय करके कार मे बैठा लेंगे। इन्द्रजीत ड्राईवर के रूप मे रहेगा और मनीष पहले से ही पिछली सीट पर बैठी हुयी सवारी के रूप मे रहेगा। रास्ते मे जब एकान्त मिले तो मनीष पहले से ही तय योजना के अनुसार ड्राईवर के रूप मे गाडी चला रहे इन्द्रजीत को कहेगा कि आप गाडी 50 मीटर अन्दर ले लो, मुझे कुछ सामान लेना है। इसी बीच मनीष एक एयरगन को असली बन्दूक के रूप मे दिखाकर उसकी बट से बैठी सवारी के सिर पर चोट मारेगा और दोनो मिल कर उसको लूट लेंगे । इस काम के लिए दोनो ने इन्द्रा मार्केट देहरादून से 1500 की एक एयरगन खरीदी ।

दिनांक 06-10-2022 को उक्त दोनो इन्द्रजीत की आई-20 कार लेकर भानियावाला तिराहा पर शाम को करीब 07.30 बजे पहुँचे। वहाँ उन्हे एक महिला मिली, जो लालतप्पड फैक्ट्री से डयूटी के बाद रानीपोखरी अपने घर जाने के लिए सवारी का इन्तजार कर रही थी। इन लोगो के द्वारा उक्त महिला को रानीपोखरी जाने के लिए 15/- रू0 मे किराया तय करके बैठा लिए और चल दिये, परन्तु रास्ते मे इन्होने कार डांडी की तरफ मोड दी । इस पर महिला ने विरोध किया, परन्तु इन लोगो ने एयर पिस्टल दिखाकर महिला के सिर पर बट से वार किया और उसका बैग, मोबाईल, एटीएम कार्ड व 150/- रू0 लूट लिये। परन्तु महिला द्वारा अभि0 मनीष के हाथ मे दांत काटकर अपने आप को छुडाया । मनीष के मेडीकल मे भी उसके हाथ मे दांत काटे जाने की पुष्टि हुई है।
अभि0गणो को लूट मे अपेक्षित माल ना मिलने के कारण वह हरिद्वार चले गये और बस अड्डे पर बैठकर किसी सवारी का इन्तजार करने लगे। रात 10.00 बजे करीब उन्हे एक व्यक्ति अकेला मिला जो देहरादून जाने के किसी सवारी का इन्तजार कर रहा था, तभी इन्द्रजीत ने इससे कहा कि मै देहरादून जा रहा हूँ मेरे पास पहले से एक सवारी है, आप चलना चाहो तो 60/- रू देकर मेरे साथ चल सकते हो । जिस पर उक्त व्यक्ति इनके झासे मे आ गया और कार मे बैठ गया। रास्ते मे फनवैली के पास पूर्व निर्धारित योजना के अनुसार सवारी के रूप मे बैठे हुए सह अभि0 मनीष ने चालक इन्द्रजीत को एक रोड पर अन्दर की तरफ अपना कुछ समान लेने की बात कहकर कार को मुडवाया। थोडी आगे जाकर पूर्व निर्धारित योजना के अनुरूप इन दोनो ने कार मे बैठे व्यक्ति के सिर पर एयरगन से चोट मारकर और उसका मोबाईल,एटीएम कार्ड, 600/-रू0 नकद तथा बैग लूट लिया । तथा उक्त व्यक्ति को वही छोडकर वहाँ से फरार हो गये।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *