एक साल से फरार 20 हजार का इनामी झारखंड से गिरफ्तार

देहरादून। एसओजी ने धोखाधड़ी के एक मामले मे एक साल से फरार चल रहे 20 हजार के इनामी को रांची झारखण्ड से गिरफ्तार किया है।
घटनाक्रम के अनुसार 21 जनवरी 21 को राहुल सेतिया निवासी राजपुर रोड द्वारा थाना कोतवाली मे रिपोर्ट दर्ज कराई कि राहुल अग्रवाल निवासी: डालनवाला व विकास सिंह निवासी मुजफ्फरनगर उनके साथ पहले एक कम्पनी में काम करते थे। उनके द्वारा एक नई र्स्टाटअप कम्पनी मैसर्स बेसिक फर्स्ट नाम से शुरू करने की बात कही गयी तथा बताया कि उसका कार्य स्थल देहरादून में रहेगा तथा इस कम्पनी के माध्यम से स्कूल व इन्स्टीट्यूट में टैबलेट सप्लाई का काम किया जायेगा। जिसमें निवेश करने पर लाभ का 05 प्रतिशत वादी को दिया जायेगा, इस आधार पर वादी और कम्पनी के बीच एक एग्रीमेंन्ट किया गया। जिसमें कम्पनी शुरू करने हेतु वादी द्वारा पांच लाख बयानवे हजार रू0 दिये गये, परन्तु उसके पश्चात कम्पनी शुरू नहीं हो पायी और न ही वादी के पैसे वापस मिले। जिस सम्बन्ध में कम्पनी के मालिक रणधीर कुमार प्रियदर्शी से सम्पर्क करने तथा बार-बार पैसे वापस देने का आग्रह करने पर भी उनके द्वारा पैसे वापस नहीं दिये गये। इस सम्बन्ध में जानकारी करने पर उन्हें ज्ञात हुआ कि उक्त कम्पनी के मालिक द्वारा उत्तर प्रदेश, पंजाब व अन्य जगहों पर लगभग 60 से 70 डिस्ट्री ब्यूटर बनाये गये हैं, जो लोगो से पैसा लेकर धोखाधडी से उनका पैसा हडप लेते हैं। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर उनके विरूद्ध पूर्व में 82/83 सीआरपीसी की कार्यवाही करते हुए अभियुक्त पर 20000 रू0 का ईनाम घोषित किया गया था।
आरोपी की तलाश हेतु पूर्व में पुलिस टीम द्वारा अभियुक्त के सम्भावित निवास स्थानों पर दबिश दी गयी थी,किंतु आरोपी के सम्बन्ध में कोई जानकारी प्राप्त नहीं हो पायी। पुलिस द्वारा सर्विलांस व मुखबिर के माध्यम से अभियुक्त के सम्बन्ध में लगातार जानकारी की जा रही थी, इसी बीच पुलिस टीम को उसके मोबाईल नम्बर बदलकर रहने तथा कुछ समय पूर्व बिहार/झारखण्ड राज्य में होने की जानकारी प्राप्त हुई थी। जिस पर टीम द्वारा बिहार/झारखण्ड में सम्भावित जगहों पर दबिश दी गयी लेकिन रणधीर कुमार प्रियदर्शी वहां से भी फरार हो गया। दोबारा मुखबिर की सूचना के आधार पर के रांची झारखण्ड में रहने की सूचना प्राप्त हुई तथा यह भी पता लगा की वहां वह बंसी पटेलनगर राँची क्षेत्र में नाम बदलकर अध्यापक का कार्य कर रहा है। टीम द्वारा रांची पहुचं कर जानकारी प्राप्त की गई तो ज्ञात हुआ की फरार आरोपी अपना पता बदलकर वंसी पटेलनगर रांची में रह रहा है। टीम ने रणधीर कुमार प्रियदर्शी को वंसी पटेलनगर सत्य अपार्टमेंट रांची झारखण्ड से गिरफ्तार कर लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *