भाजपा सांसद बिधूड़ी के बयान को आर्य ने बताया अहंकार की पराकाष्ठा

देहरादून। नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने बीएसपी सांसद के खिलाफ भाजपा सांसद रमेश बिधूड़ी की टिप्पणी की निंदा करते हुए इसे ने अहंकार की पराकाष्ठा बताया।

आर्य ने कहा कि सत्ता के नशे में बेसुध भाजपा के सांसद द्वारा विपक्ष के एक अल्पसंख्यक सांसद को अति अभद्र तरीके से संबोधित करना किसी आपराधिक घटना से कम नहीं है। ये भाजपा की नकारात्मक राजनीति का निकृष्टतम रूप है जिसमें अन्य भाजपाई सांसदों का हँसते हुए सम्मिलित होना दिखाता है कि ये किसी एक भाजपाई की गलती नहीं है बल्कि ये भाजपा के अधिकांश सदस्यों की आशिष्ठता का प्रदर्शन है।

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि यह दो अलग-अलग विचारधाराओं के लिए एक तरह का न्याय है। राहुल गांधी ने ललित और नीरव मोदी को धोखेबाज और चोर कहा उनकी सदस्यता निलंबित कर दी गई, उन्हें 2 साल की जेल की सजा सुनाई गई थी। एक पवित्र स्थान पर जघन्य अपराध हुआ है। अगर रमेश विधूड़ी ने जो बोला, वह संसद में बोला जा सकता है और ये सब बोलने की सजा सिर्फ चेतावनी है तो फिर ये सब बार-बार बोला जाएगा।
यशपाल आर्य ने कहा कि ये लोकतंत्र और संविधान के लिए कितनी खतरनाक बात होगी, भारतीय लोकतंत्र, संविधान और संसद के सम्मान की रक्षा के लिए ऐसे सासंदो पर, किसी भी प्रकार की संसदीय विशेषाधिकारों की छूट से परे, किसी एक सांसद नहीं बल्कि पूरे संसद और संविधान की मानहानि करने का मुकदमा होना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *