नाबालिग को भगाने की कोशिश मे समुदाय विशेष के दो युवक गिरफ्तार

उत्तरकाशी के पुरोला के बाद गौचर की घटना से बढ़ा तनाव

देहरादून। गौचर मे नाबालिग लड़की को बहला फुसलाकर भगाने की कोशिश करने वाले समुदाय विशेष के दो युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

गौरतलब है कि विगत दिवस दो युवक सुबह एक लड़की को लेकर होटल मे आये थे। उन्होंने लड़की को मौसी की बेटी बताया। दुकानदार को शक हुआ तो उसने पुलिस को सूचना दी। वहीं हिंदूवादी संगठनों सहित क्षेत्रीय लोग भी होटल पहुँच गए और हंगामा शुरू हो गया। इस दौरान लड़की को लेकर एक युवक भाग निकला जबकि दूसरे युवक असलम निवासी धरमपुरा सरधना, मेरठ (उत्तर प्रदेश) को लोगों ने पकड़ लिया। उसने अपने साथी का नाम गुलजार बताया। वह भी मेरठ का रहने वाला है और वर्तमान में रुद्रप्रयाग में जेसीबी चलाता है। युवक के अनुसार गुलजार ने असलम को घूमने के लिए बुलाया था। असलम ने यह भी बताया कि लड़की नाबालिग है और रुद्रप्रयाग जिले के एक गांव की रहने वाली है।

पुलिस ने लड़की के पिता से तहरीर लेकर दोनों युवकों के विरुद्ध कोतवाली कर्णप्रयाग में सुसंगत धाराओं में पंजीकृत किया। आज गुलजार को रानों गांव के बैंड से गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में गुलजार के द्वारा बताया गया कि 08 माह पूर्व ही उसका प्रेम विवाह हुआ था। इसके साथ ही वह नाबालिक से भी फोन पर बात किया करता था। आज आरोपियों को कोर्ट मे पेश किया गया। पुलिस अधीक्षक ने सभी से कानून एवं शान्ति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *