महिला कांग्रेस का प्रदर्शन, कैबिनेट मंत्री को बर्खास्त करने की मांग

देहरादून। अंकिता हत्याकाण्ड, महंगाई, बेरोजगारी, महिला पहलवानों को न्याय दिलवाये जाने, मंत्री प्रेमचन्द द्वारा खुलेआम एक नागािरक पर हमला किये जाने के विरोध महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्ष ज्योति रौतेला के नेतृत्व में कांग्रेस मुख्यालय से सचिवालय तक प्रदर्शन किया। इस असवर पर उन्होंने भाजपा सरकार पर आरोप लगाया कि स्वयं एक मंत्री द्वारा ऋषिकेश मेें एक नागरिक को खुलेआम पीटा गया यह परम्परा लोकतंत्र के लिए अच्छा संकेत नही है। उन्होंने कहा स्वयं मंत्री ने कानून की धज्जियां उडा कर सरकार की किरकिरी की है। उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की है कि ऐसे मंत्री को शीघ्र पद से बर्खास्त करना चाहिए। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि केन्द्र व राज्य की सरकार अपने लोगों को बचाने का काम कर रही है जबकि विपक्ष पर तुरन्त कार्यवाही की जा रही है।

रौतेला ने कहा कि उत्तराखण्ड की बेटी अंकिता भण्डारी हत्याकांड में भाजपा नेता की संलिप्तता तथा सत्ता के बल पर वी.आई.पी. का नाम उजागर न होने देने की घटना हो या हेमा नेगी हत्याकाण्ड, पिंकी हत्याकाण्ड, जगदीश चन्द हत्याकाण्ड, विजय वात्सल्य हत्याकाण्ड, केदार भण्डारी या विपिन रावत हत्याकाण्ड सभी में भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने अपराधियों को संरक्षण देने का काम किया है। उन्होंने कहा कि तब कहां थे यह बजरंग दल के लोग क्यों उन्होंने प्रतिकार नहीं किया।
उन्होंने कहा कि भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह पर महिला कुश्ती खिलाडियांे द्वारा लगाये गये शारीरिक शोषण के आरोपों की जांच को लेकर भारत का नाम दुनिया में रोशन करने वाले खिलाड़ी दिल्ली के जन्तर-मन्तर मे पिछले एक माह से लगातार आन्दोलन कर रहे हैं, परन्तु भाजपा की केन्द्र सरकार उनकी बात सुनने को तैयार नही है अपितु अपराधी को बचाने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकारें भ्रष्टाचार में आकंठ डूबी हुई हैं उत्तराखण्ड मे लोक सेवा आयोग, अधीनस्थ सेवा चयन आयोग, सहकारिता विभाग, विधानभा बैकडोर भर्ती सहित राज्य में हुए लगभग सभी भर्ती घोटालों में भाजपा नेताओं की संलिप्तता उजागर हुई है तथा राज्य सरकार द्वारा दोषियों को लगातार संरक्षण दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जोशीमठ त्रासदी में प्रभावित परिवारों के विस्थापन एवं ठोस निर्णय लेने में केन्द्र व राज्य सरकार पूरी तरह विफल साबित हुई है। भाजपा की केन्द्र व राज्य सरकारें केवल लोगों की भावनायें भडकाकर देश का साम्प्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने का प्रयास कर सत्ता पर काबिज होना चाहती हैं।
रौतेला ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार अपने 8 साल के कार्यकाल में कोई भी जनहित का काम नहीं कर पाई है। लगातार बढती मंहगाई, बेरोजगारी तथा अराजकता से जनता का ध्यान हटाने के लिए विपक्ष की आवाज दबाने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि राजनैतिक प्रतिशोध और दुर्भावना से ग्रसित होकर सरकारी ऐजेंसियों का दुरूपयोग कांग्रेस नेताओं के उत्पीडन के लिए किया जा रहा है ऐसा इस देश में पहले कभी नहीं हुआ था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का एक-एक कार्यकर्ता अपने नेतां श्री राहुल गांधी के साथ खडा है तथा हम अपना संघर्ष तब तक जारी रखेंगे जब तक मोदी सरकार विपक्ष के खिलाफ इस प्रकार के षडयंत करती रहेगी।

प्रदर्शन में मुख्य रूप से महिला कांग्रेस की उपाध्यक्ष आशा मनोरमा डोबरियाल, उर्मिला थापा, कोमल बोरा, संगीता गुप्ता, सविता सोनकर, मीना बिष्ट, शिवानी थपलियाल, चन्द्रकला नेगी, पुष्पा पंवार, सुशीला शर्मा, अनुराधा तिवाडी, राधा आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *