युवक की गुमशुदगी का पर्दाफाश, मित्र ने ही गंगनहर में दिया धक्का,बॉडी की तलाश जारी

देहरादून/हरिद्वार। मंगलौर के युवक की संदिग्ध गुमशुदगी का पुलिस ने पर्दाफ़ाश कर दिया है। पुलिस ने खुलासा किया की पैसों के लेनदेन को लेकर दोस्त ने ही उसे गैंग नहर मे धक्का दिया था। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

कोतवाली मंगलौर पर ग्राम ठोई मंगलौर निवासी तेजपाल द्वारा अपने पुत्र आजाद वीर का घर से कहीं चले जाने के संबंध में गुमशुदगी दर्ज कराई गई थी।जिसको नियमानुसार अपराध क्रमांक देकर धारा 365 आईपीसी में तरमीम किया गया था।

जिस पर गुमशादा व्यक्ति की तलाश हेतु लगी पुलिस टीम द्वारा गुमशदा व्यक्ति की बॉडी नहर में जल पुलिस के माध्यम से सर्च करायी लेकिन कोई जानकारी नहीं मिली। गुमशुदा द्वारा किसी प्रकार का कोई मोबाइल प्रयोग नहीं किया जाता था जिस कारण अभियोग का अनावरण की जटिलता बढ़ती जा रही थी।

गुमशुदा के दोस्तों से पूछताछ की गई तो जानकारी मिली की वह ड्राइवरी का काम करता था। जिसका एक दोस्त शिवकुमार शामली मेरठ का रहने वाला है जिससे वह काफी संपर्क में रहता था।

शिवकुमार से पूछताछ की गई तो शिव कुमार द्वारा बताया गया कि गुमशुदा आजाद वीर के साथ ड्राइवरी का काम करता था नहर पटरी पर किसी कारण से आपस में पैसों को लेकर कहासुनी हुई जिससे कि अचानक धक्का-मुक्की में धक्का लगने के कारण आजाद वीर नहर में गिर गया तथा वह मौके से भाग गया। जिस पर शिव कुमार उर्फ छोटू पुत्र किरताराम निवासी ग्राम लिसाड़ी थाना जिला शामली उत्तर प्रदेश हाल गांधी कॉलोनी नई मंडी मुजफ्फरनगर को गिरफ्तार कर मुकदमे में धारा 364, 304, 201आईपीसी की बढ़ोतरी की गई।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *