पारदर्शिता के लिए बद्री केदार मंदिर समिति होगी डिजिटिलाइज्ड:अजय

बीकेटीसी शीघ्र ही शुरू करेगी अपनी वेबसाइट पर ऑनलाइन पूजा बुकिंग 

देहरादून। श्री बदरीनाथ – केदारनाथ मंदिर समिति (बीकेटीसी) के अध्यक्ष अजेंद्र अजय ने कहा कि विभिन्न व्यवस्थाओं में पारदर्शिता लाने के लिए सूचना प्रौद्योगिकी (आइटी) का अधिक से अधिक इस्तेमाल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बदलते समय के साथ कदमताल करते हुए बीकेटीसी भी पूरी तरह से डिजिटिलाइज्ड होगी। बीकेटीसी शीघ्र ही अपनी वेबसाइट पर ऑनलाइन पूजा बुकिंग भी शुरू कर देगी।

अजेंद्र ने आज बीकेटीसी के कैनाल रोड कार्यालय में आइटी से जुड़े कार्मिकों के एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में यह बात कही। बीकेटीसी ने एनआईसी के सहयोग से अपने कार्मिकों के लिए इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया था। इस अवसर पर अजेंद्र ने कहा कि अभी तक बीकेटीसी में सीमित कार्यों के लिए ही आइटी का उपयोग होता है। मगर वर्तमान समय में प्रत्येक कार्य में आईटी की उपयोगिता को देखते हुए बीकेटीसी में भी इसका अधिक से अधिक प्रयोग किया जाएगा। उन्होंने कहा कि श्रदालुओं के दर्शन व्यवस्था में सुधार के लिए अच्छी गुणवत्ता के सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। दान-चढ़ावे की व्यवस्था को अधिक पारदर्शी बनाने के लिए भी सीसीटीवी कैमरों की मदद ली जाएगी। बीकेटीसी में कार्यालयी कामकाज में कंप्यूटराइज्ड व्यवस्था को बढ़ावा दिया जाएगा। अकाउंट सेक्शन को भी ऑनलाइन करने के साथ ही कार्मिकों का लेखा जोखा रखने के लिए सॉफ्टवेयर तैयार किया जाएगा। अध्यक्ष ने बताया कि शीघ्र ही बीकेटीसी की वेबसाइट पर ऑनलाइन पूजा बुकिंग भी शुरू कर दी जाएगी। इसके लिए वेबसाइट में आवश्यक अपडेट किये जा रहे हैं।

एनआइसी के निदेशक अरुण शर्मा ने बीकेटीसी के कार्मिकों को नेटवर्किंग का व्यवहारिक ज्ञान, काउंटर सॉफ्टवेयर संचालन, पूजा बुकिंग, दान – चढ़ावे की गिनती, पूजाओं की दैनिक रिपोर्ट, मोबाइल एप्लीकशन आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर एनआइसी के वैज्ञानिक शक्ति रतूड़ी, नेटवर्क अभियंता राहुल कुमार, डाटा सेंटर तकनिकी सहायक निखिल भट्ट, मंजीत सिंह के अलावा बीकेटीसी के कार्मिक उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *