एसआईटी ने JE/AE भर्ती परीक्षा प्रकरण मे 3 दबोचे, लाखों बरामद

देहरादून। एसआईटी ने JE/AE भर्ती परीक्षा प्रकरण में₹ 50 हजार के इनामी सहित 03 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपी के खाते/एफडी (लगभग 13 लाख 41 हजार रुपए) फ्रीज किये गए हैं। आरोपियों द्वारा अभ्यर्थियों को किराए के घर में एकत्रित कर पेपर उपलब्ध कराया था। अब तक 09 आरोपी गिरफ्तार किये जा चुके थे। आरोपियों ने भर्ती प्रकरण से कमाए  रुपयों से राजपाल द्वारा लक्सर स्थित ज्वेलर्स से  लगभग 3 लाख 60 हजार की ज्वैलरी खरीदी थी।

एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि इनामी आरोपी अनुराग पांडे के बैंक खाते/एफडी (लगभग 13 लाख 41 हजार रुपए) फ्रीज की गई। जो उसने अपने व अपनी बहन प्रियदर्शनी के नाम बैंक में एफडी और कैश जमा कराया था। गिरफ्तार आरोपियों द्वारा उदाहेड़ी मंगलौर में किराए के मकान में अभ्यर्थियों को एकत्रित कर पेपर उपलब्ध करा कर मोटी रकम ली गई थी।

एसआईटी द्वारा पूर्व में गिरफ्तार अभियुक्त राजपाल को रिमांड में लिया गया था जिसके द्वारा इसी अवैध धनराशि से लक्सर स्थित ज्वेलर्स से लगभग 3 लाख 60 हजार की ज्वैलरी खरीदी थी। जीएसटी से बचने के लिए ज्वेलर्स ने अभियुक्त राजपाल को कच्चा बिल दिया गया था। ज्वेलर्स के विरुद्ध कच्चा बिल देकर जीएसटी चोरी करने के संबद्ध में संबंधित को रिपोर्ट प्रेषित की जाएगी।

आरोपियों की पहचान अनुराग पांडे उर्फ कुमार अनुराग पुत्र उमेश कुमार निवासी ग्राम सरया पोस्ट डुमरी थाना बासखेड़ी बलिया उत्तर प्रदेश,  विशु बेनीवाल पुत्र कृष्णपाल निवासी मंडावली मंगलौर हरिद्वार (उक्त अभ्यर्थी भी आयोजित परीक्षा का अभ्यर्थी था) तथा अवनीश उर्फ अश्वनी पुत्र विजेंद्र निवासी नारसन खुर्द मंगलौर है। आरोपी  विशु बेनीवाल पुत्र कृष्णपाल निवासी मंडावली मंगलौर हरिद्वार से ₹1 लाख तथा अवनीश उर्फ अश्वनी पुत्र विजेंद्र निवासी नारसन खुर्द मंगलौर से ₹2 लाख, शैक्षणिक दस्तावेज बरामद किये गए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *