“अपनों” ने किये वार तो ढ़ाल बना संगठन, सलाह और नसीहत की पिलायी घुट्टी

देहरादून। सरकार पर भ्रष्टाचार को लेकर विपक्ष और अपनों के द्वारा तमाम वार के बाद अब भाजपा संगठन भी ढाल बनकर आगे आया है। संगठन ने सीएम धामी की विकास को लेकर मुहिम और भ्रष्टाचार को लेकर ज़ीरो टॉलरेंस की नीति को भाजपा के एजेंडे का हिस्सा बताया है। साथ ही अपने और परायों को अपने कार्यकाल को लेकर भी नसीहत दी है। सलाह और नसीहत की घुट्टी पिलाकर संगठन ने एक साफ लाइन खींचने की कोशिश की है।

गौरतलब है कि पूर्व सीएम तीरथ सिंह रावत ने जहाँ कमीशन खोरी को लेकर सरकार को कटघरे मे खड़ा किया है तो वहीं पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी भ्रष्टाचार को लेकर तीरथ के सुर मे सुर मिलाये है। मौके की नजाकत को देखते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व सीएम हरीश रावत ने भी इसे भाजपा नेताओं की स्वीकारोक्ति बताते हुए सरकार पर कड़े प्रहार किये।

प्रदेश अध्यक्ष भट्ट ने जारी बयान मे साफ कहा कि भ्रष्टाचार का राग अलापने वाले नेताओं को अपने गिरेवान मे झांकने की जरूरत है। इशारों इशारों मे उन्होंने उन अपनों को नसीहत देने की कोशिश की है जो भ्रष्टाचार के खिलाफ झंडाबरदार बने हुए है। उन्होंने उनको अपने कार्यकाल की ओर भी देखने को कहा है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि इससे राज्य की गलत छवि तो पेश हो सकती है, लेकिन भृष्टाचार के खिलाफ अभियान और विकास की गति पर की फर्क नही पड़ेगा।
भट्ट ने कहा कि उतराखंड केंद्र के सहयोग और मार्गदर्शन से लगातार विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है और सभी को इस विकास यात्रा मे सहभागी बनने की जरूरत है।
धामी सरकार ने अल्प काल मे अपने कौशल से भ्रष्टाचार के खिलाफ निर्णायक लडाई शुरू की है और इसमे उन्होंने किसी तरह अपने पराये या काल खंड को नही देखा। हो सकता है, कि भ्रष्टाचार के खिलाफ उनकी आक्रमकता को कुछ लोग बर्दाश्त नही कर पा रहे हों, लेकिन वह भाजपा के भ्रष्टाचार के खिलाफ एजेंडे और जीरो टॉलरेंस के प्रति बचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि धामी सरकार द्वारा अब तक भ्रष्टाचार के खिलाफ की गयी कार्यवाही का आकलंन किया जाए तो तस्वीर शीसे की तरह साफ है। जन सुनवाई के लिए व्यवस्था है तो विभागों मे पारदर्शिता के लिए जरूरी कार्य किये जा रहे है। उन्होंने कहा कि आरोप प्रत्यारोप से प्रदेश को लेकर गलत छवि बनती है। विरोध की राजनीति करने वालों के शासन काल मे कार्यप्रणाली किस स्तर की रही उन्हे खुद इसका आकलन करने की जरूरत है।
भट्ट ने कहा कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भी उपदेश दे रहे है, जबकि उनके कार्यकाल मे काम नही कारनामे हुए और पूरे देश ने उतराखंड के घटनाक्रम को नजदीक से जाना। भट्ट ने कहा कि अपने हो या पराये सभी का नजरिया निष्पक्ष होना चाहिए।
उन्होंने कहा कि प्रदेश मे समावेशी विकास की दिशा मे एक बेहतर सरकार चल रही है और आरोप प्रत्यारोप से इस यात्रा मे कोई अवरोध उत्पन्न नही होने वाला, क्योकि राज्य मे जनता ने भाजपा को बागडोर सौंपी है। भाजपा जनता से किये वायदे को पूरा करने के लिए कार्य कर रही है और किसी को भ्रम मे नही रहना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *