कार्यों मे शिथिलता पर धामी का एक्शन, 24 आईएएस का बदला दायित्व

देहरादून। विकास कार्यो मे शिथिलता के खिलाफ मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कड़ा एक्सन लिया है। नौकरशाही मे बड़े पैमाने पर फेरबदल किया गया है। फेरबदल में 24 आईएएस और एक पीसीएस अफसर का तबादला किया है। कई अफसरों से मलाईदार विभाग छीने गए हैं। इस फेरबदल में तीन जिलों के डीएम भी बदले गए हैं। हरिद्वार के डीएम विनय शंकर पांडे के अलावा अल्मोड़ा और नैनीताल के डीएम को नए जिले सौंपे गए हैं। बताया जा रहा है कि विनय शंकर पांडे को निकट भविष्य में गढ़वाल आयुक्त बनाया जा सकता है। नए फेरबदल में नैनीताल के डीएम धीराज सिंह गबर्याल अब हरिद्वार के डीएम होंगे। अल्मोड़ा की डीएम वंदना का तबादला कर उन्हें नैनीताल का डीएम बनाया है। दोनों अफसर अपने जिलों में जिलास्तरीय विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष पद का अतिरिक्त प्रभार भी देखेंगे।

केएमवीएन के प्रबंध निदेशक विनीत तोमर को अल्मोड़ा का डीएम बनाया गया है। अपर सचिव (कार्मिक एवं सतर्कता) कर्मेन्द्र सिंह ने देर रात तबादला आदेश जारी किए। अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी को अध्यक्ष राजस्व परिषद से मुक्त कर दिया गया है, बाकी विभाग यथावत रहेंगे। अपर मुख्य सचिव मनीषा पंवार से नियोजन, बाह्य सहायतित परियोजनाएं, वित्त अवस्थापना विकास आयुक्त से मुक्त कर उन्हें अध्यक्ष राजस्व परिषद के साथ पुनगर्ठन भी दिया है। ग्राम्य विकास व शहरी विकास हटाकर एसीएस आनंद बर्द्धन को वित्त और अवस्थापना विकास दिया है। प्रमुख सचिव आरके सुधांशु से लोनिवि और अध्यक्ष ब्रिडकुल की जिम्मेदारी ले शहरी विकास की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

इनके प्रभार भी बदले गए

सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम से वित्त हटाकर शेष विभागों को बरकरार रखते हुए उन्हें नियोजन व बाह्य सहायतित- परियोजनाएं दी गई हैं। सचिव नितेश कुमार झा को पेयजल से मुक्त कर उन्हें ग्राम्य विकास व सीपीडी, यूडीवीएएस की जिम्मेदारी दी गई है। सचिव अरविंद सिंह यांकी पेयजल की भी जिम्मेदारी देखेंगे। सचिव दिलीप जावलकर से नागरिक उड्डयन वापस लेते हुए उसे संचिव सचिन कुर्वे को दिया गया है। सचिव बीवीआरसी पुरुषोत्तम से कृषि एवं कृषक कल्याण, ग्राम्य विकास व सीपीडी, यूजीवीएस व रोप से हटा दिया गया है। सचिव डॉ. पंकज कुमार पांडेय से औद्योगिक विकास व एमएसएमई हटाकर उन्हें लोनिवि, बिडकुल व खनन महानिदेशक सरीखे अहम महकमे सौंपे गए हैं। खनन महानिदेशक का दायित्व सचिव बृजेश कुमार संत से हटा दिया गया है। सचिव चंद्रेश से पुनर्गठन लेकर डॉ. रंजीत कुमार सिन्हा को सौंपा गया है।

सचिव हरिचंद्र सेमवाल को मानवाधिकार आयोग के सचिव का जिम्मा सौंपा गया है। सचिव विजय कुमार यादव से वन एवं पर्यावरण संरक्षण व जलवायु परिवर्तन हटा दिया गया है। अब तक वाध्य प्रतीक्षा में चल रहे सचिव डॉ. वी. षणमुगम को वित्त के साथ मुख्य निर्वाचन अधिकारी बनाया गया है। अपर सचिव सी. शंकर को इस प्रभार से मुक्त कर दिया गया है। हरिद्वार के डीएम विनय शंकर पांडेय की सचिवालय में वापसी हुई है। उन्हें सचिव मुख्यमंत्री, औद्योगिक विकास, सूक्ष्म, लघु एवं मध्य उद्योग के साथ आयुक्त निवेश नई दिल्ली बनाया गया है। सचिव दीपेंद्र कुमार को शहरी विकास हटाकर कृषि एवं कृषि कल्याण, दिया गया। मुख्य विकास अधिकारी नैनीताल संदीप तिवारी को कुमाऊं मंडल विकास निगम के एमडी का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है, जबकि पीसीएस अफसर अरविंद कुमार को सचिव मानवाधिकार आयोग से मुक्त कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *