खुलासा: सचिवालय कर्मी ने 18 लाख के हिसाब से बेचे परीक्षा के पेपर

देहरादून। अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की परीक्षा का पेपर  सचिवालय के न्याय विभाग में कार्यरत निजी सचिव सूर्य प्रताप ने लीक 18 लाख के हिसाब से 2 अभ्यार्थियों को बेचे थे।

एसटीएफ के द्वारा आज गिरफ्तार किये गए आरोपी निजी सचिव ने  बताया कि उसने मनोज जोशी(कोर्ट कर्मचारी) गिरफ्तार निजी सचिव गौरव चौहान और गिरफ्तार आरोपी तुषार चौहान के माध्यम से दो अन्य अभ्यर्थियों को पेपर लीक किया था।

आरोपी ने दो अभ्यर्थियों से 18-18 लाख में पेपर का सौदा तय किया गया था,जिसमे 3_ 3 लाख परीक्षा से पूर्व और 15_15 लाख परीक्षा के बाद तय हुए थे। लेनदेन उसके जसपुर स्थित आवास मे हुआ था। STF ने पूछताछ और उपलब्ध साक्ष्य व इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्यों के आधार पर गिरफ्तारी की है।

गौरतलब है कि अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की परीक्षा के पेपर लीक मामले मे STF अब तक 16 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है और रोजाना कई अहम खुलासे हो रहे है। पुलिस गिरफ्तार आरोपियों के जरिए उन अभ्यर्थियों तक भी पहुच रही है जिन्होंने पेपर लीक के बाद परीक्षा पास की। अभी तक ऐसे 50 से अधिक अभ्यर्थियों तक की पहचान STF कर चुकी है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *