अग्निपथ के विरोध को देखते हुए युवाओं से संवाद करेगी पुलिस

देहरादून। सेना भर्ती की नई योजना अग्निपथ के विरोध को देखते हुए उत्तराखंड पुलिस को भी अलर्ट किया गया है। डीजीपी अशोक कुमार ने वीडियो कांफ्रेंस कर सभी जिलों के कप्तानों से युवाओं के साथ संवाद करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही कानून व्यवस्था बिगाड़ने वालों पर सख्ती करते हुए एफआईआर तक करने के निर्देश दिए हैं। डीजीपी ने शनिवार को एक वीडियो जारी कर युवाओं से शांति बनाने की अपील की है। उन्होने कहा कि उत्तराखंड में कुछ युवा साथी अग्निपथ योजना को लेकर आंदोलनरत हैं। कुछ गलतफहमी का शिकार हैं। कुछ को भड़काया जा रहा है। वह सभी साथियों से अपील करते हैं कि शांति बनाए रखें। कोई भी कदम सोच-समझकर उठाएं। धैर्य बनाएं। संयम से काम लें। सकारात्मक सोचें। इसको इस दृष्टि से भी देखा जा सकता कि आपको आर्मी के साथ-साथ दूसरी तरह की नौकरी के अवसर भी प्राप्त होंगे। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने घोषणा की है कि अग्निवीरों को बाद में पुलिस, आपदा, चारधाम यात्रा प्रबंधन आदि में अवसर दिए जाएंगे। इसके संबंध में भी इसको सकारात्मक सोच सकते हैं। फिर भी कुछ युवा साथियों को विरोध प्रकट करना ही है तो उसे लोकतांत्रतिक तरीके से, शांतिपूर्ण तरीके से करें। कानून व्यवस्था को अपने हाथ में लेने का प्रयास न करें। यह उनका देश है और यह देश की संपत्ति है। इसको किसी भी तरह से नुकसान न पहुंचाएं। क्योंकि युवा देश का भविष्य हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *