योग, व्यायाम और नींद नो कॉस्ट हेल्थ बूस्टर:डॉ संजय

श्री अरबिंदो सोसाइटी के द्वारा वन निवास नैनीताल में ग्रीष्मकालीन शिविर का आयोजन

देहरादून। पद्मश्री डॉ. संजय ने कहा कि भोजन, शिक्षा और स्वास्थ्य मानव संसाधन को विकसित करने की मूलभूत आवश्यकताएं हैं। स्वास्थ्य और खुशी परस्पर संबंधित हैं। यदि आप स्वस्थ हैं, तो आप खुश हैं। यदि आप खुश हैं, तो आप स्वस्थ हैं।

श्री अरबिंदो सोसायटी द्वारा वन निवास, नैनीताल में एक सप्ताह के ग्रीष्मकालीन शिविर मे अतिथि वक्ता डॉ संजय ने कहा कि अच्छे स्वास्थ्य को प्राप्त करने के लिए, कोई भी DEWS के एक्रोनिम को अपना सकता है जिसका मतलब है आहार, व्यायाम, काम और नींद।

डॉ. संजय ने कहा कि योग, व्यायाम और नींद नो कॉस्ट हेल्थ बूस्टर हैं। उन्होंने सुझाव दिया कि हमें हर रोज एक कप ग्रीन टी लेनी चाहिए जो एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर हो, एक केला जो ऊर्जा और मैग्नीशियम का सबसे अच्छा स्रोत हो, एक नींबू जो विटामिन सी से भरपूर हो, हरी पत्तेदार सब्जी जो आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम से भरपूर हो, एक ताजा फल जिसमें फाइबर, फोलिक एसिड और विटामिन सी हो और एक अंडा जिसमें शरीर के लिए आवश्यक लगभग सभी महत्वपूर्ण तत्व होते हैं।
इस तरह व्यायाम करने के लिए अतिरिक्त समय की आवश्यकता नहीं होती है, बशर्ते हम अपना घरेलू काम करें। व्यायाम को एक आदत के रूप में ढ़ाला जा सकता है। आधे घंटे से एक घंटे तक चलने वाली कोई भी गतिविधि जो शरीर से पसीना बहाती है, अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए पर्याप्त है। अगर हम सभी अपने पर्सनल और घरेलू काम रोजाना करते हैं तो जिम जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। दुर्भाग्य से, हमारी संस्कृति में, काम को उचित महत्व नहीं दिया गया है।
नींद हर जीव की मूलभूत आवश्यकता है, ठीक उसी तरह जैसे खाना। कोई भी व्यक्ति 48 घंटे से ज्यादा नींद के बिना नहीं रह सकता है। जो लोग अधिक काम करते हैं उनका नींद चक्र बेहतर होता है और जो लोग कम काम करते हैं वे अनिद्रा से पीड़ित होते हैं। वास्तव में योग, व्यायाम और नींद नो काॅस्ट हेल्थ बूस्टर हैं। सभी बीमारियां लगभग 70 प्रतिशत जीवन शैली में बदलाव के कारण होती हैं जो तेजी से गतिहीन होता जा रहा है जो मुख्यतः खराब भोजन, कम शारीरिक कार्य और तंबाकू और शराब के सेवन के कारण हैं। उन्होंने यह सुझााव दिया कि हमें कम खाना चाहिए और अधिक काम करना चाहिए। यही स्वस्थ और सुखी जीवन का रहस्य है।
पद्मश्री डॉ. संजय ने जोर देकर कहा कि अगर हम आत्मनिर्भर भारत के सपने को साकार करना चाहते हैं तो सरकार को सभी नागरिकों को अधिमानतः सब्सिडी दर पर गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य, शिक्षा और भोजन की व्यवस्था करनी चाहिए।

श्री अरविंदो सोसाइटी के अतिथि वक्ता डॉ. जे.पी. सिंह ने कहा कि कोई भी काम समर्पण एवं सामंजस्य से किया जाए तो परिणाम अपेक्षित ही होगा। कार्यक्रम का संचालन कपूर चंद ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *